Jiyyo Healthcare Blog

क्या एल्बिनिज्म(रंगहीनता) से इलाज है संभव ?

क्या एल्बिनिज्म(रंगहीनता) से इलाज है संभव ?

एल्बिनिज्म या रंगहीनता एक प्रकार का जेनेटिक डिसऑर्डर अर्थात वंशानुगत रोग है। इस रोग से पीड़ित व्यक्ति के शरीर में मिलेनिन का निर्माण पर्याप्त मात्रा से या तो कम होता है या तो होता ही नहीं है।

टी बी(Tuberculosis) क्या है - कारण, लक्षण और इलाज !

टी बी(Tuberculosis) क्या है - कारण, लक्षण और इलाज !

ट्यूबरक्लोसिस को टीबी की बीमारी भी कहा जाता है। इसको हिंदी में क्षयरोग भी कहते हैं। क्षयरोग बैक्टीरिया से होने वाली एक संक्रमण बीमारी है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को हो जाती है। माइकोबैक्टेरियम ट्यूबरक्लोसिस नाम का एक बैक्टीरिया होता है। 1882 में डॉ रॉबर्ट कोक ने माइकोबैक्टेरियम ट्यूबरक्लोसिस को खोजा था। इसीलिए ट्यूबरक्लासिस को कोक डिज़ीज़ भी कहते हैं।

 आई केयर कैसे करें? जानें टिप्स

आई केयर कैसे करें? जानें टिप्स

हमारे जीवन में हमारी आंखों का बहुत महत्व है। आंखें हमारे शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण और नाजुक हिस्सा हैं। हमें अपनी आंखों की हमेशा देखभाल करनी चाहिए। यदि एक पल के लिए भी हमारी आंखें हमसे अलग हो जाएं तो हमारी जिंदगी में अंधेरा हो जाएगा। आजकल हम लोग टीवी, लैपटॉप व मोबाइल का बहुत अधिक इस्तेमाल कर रहे हैं जिसकी वजह से हमारी आंखों पर डायरेक्ट असर पड़ रहा है और हमारी आंखें दिन पर दिन कमजोर होती जा रही हैं। हमें अपने आंखों की देखभाल हमेशा करना चाहिए। हमें कंप्यूटर, मोबाइल, लैपटॉप, आईपैड आदि का प्रयोग कम से कम करना चाहिए। यदि यह कहा जाए कि आंखें भगवान की तरफ़ से दिया हुआ एक अनमोल तोहफ़ा हैं तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं है। हमारी आँखों के द्वारा ही हम इस दुनिया की सुंदरता को देखने में सक्षम हो पाते हैं। आँखों को स्वस्थ होना बेहद ज़रूरी है। यदि हमारी आँखों की रोशनी दूर हो जाए तो ऐसे में हम किसी भी चीज़ को देख नहीं पाएंगे। इससे ना सिर्फ़ हमारी ज़िंदगी में अंधेरा भर जाएगा बल्कि हम निराश भी हो जाएंगे। इन सब बातों पर ध्यान देते हुए हम ये कह सकते हैं कि आँखों की देखभाल करना सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण है। अब बात आती है कि हम आप अपनी आँखों को कैसे स्वस्थ रख सकते हैं। इसके लिए हम आज के अपने इस लेख में कुछ महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा करेंगे। इन बिंदुओं के द्वारा हम आपको बताएंगे कि हम अपनी आँखों की देखभाल कैसे कर सकते हैं। तो आइए देखते हैं कि वे क्या हैं।